अपनी गर्लफ्रेंड को बड़े लंड से चुदवाया

कॉलेज गर्ल फक स्टोरी मेरी गर्लफ्रेंड की चूत चुदाई के साथ मेरे एक दोस्त की गर्लफ्रेंड को चोदने की है. हमने अपनी गर्लफ्रेंड बदल कर चोदी, एक साथ भी चोदी.

फ्रेंड्स … मेरा नाम शुभम शर्मा है और मैं जयपुर का रहने वाला हूँ.

जैसा कि मैं अपनी पिछली कहानी
दोस्त को जन्मदिन पर दिया अद्वितीय उपहार
में पहले ही बता चुका हूँ कि हार्दिक को जन्मदिन पर मैंने अपनी गर्लफ़्रेंड शनाया चोदने के लिए दी थी और उसके बाद से हार्दिक उसे समय समय पर चोदता रहता है.

कभी कभी हार्दिक और मैं दोनों मिलकर शनाया को चोद देते हैं. मैं और हार्दिक शनाया को चोदते हुए वीडियो भी बनाते हैं.

अब उससे आगे की College Girl Fuck Story का मजा लें.

लेकिन एक दिन गलती से हार्दिक का फ़ोन हमारे दोस्त वंश के हाथ पड़ गया.
उसने हम दोनों को शनाया को एक साथ चोदते हुए वाला वीडियो देख लिया.

शनाया और वंश एक ही क्लास में पढ़ते थे और दोनों दोस्त भी थे.
वंश हम दोनों का भी अच्छा दोस्त था.

चुदाई का वीडियो देखकर वंश ने हार्दिक से कहा- भाई, मैं भी तो तुम्हारा दोस्त हूँ, तुम्हें मुझे भी तो साथ में ले लेना था.
हार्दिक को बात समझ नहीं आई.

तो वंश ने उससे शनाया की चुदाई के वीडियो के बारे कहा.
पहले तो हार्दिक सकपका गया, फिर उसने कह दिया- भाई, वो शुभम की गर्लफ़्रेंड है. वो जिसको चोदने देगा, शनाया उसी से चुदेगी. मैं क्या कर सकता हूँ.

वंश ने मुझे फ़ोन किया और मुझे उसके पास आने को कहा.
मैं आ गया.

वंश ने मुझसे कहा- भाई तूने हार्दिक को अपनी गर्लफ़्रेंड चोदने दी, मुझे कैसे भूल गया. मैं भी तो तुम्हारा दोस्त हूँ.
मैंने सोचा कि साला अब ये सब जान चुका है और शनाया का भी दोस्त है तो इसे चोदने देने में कोई दिक़्क़त नहीं है. फिर भी एक बार शनाया से पूछ लेता हूँ, यदि उसे कोई दिक्कत नहीं होगी तो इसे भी शनाया की चूत का मजा लेने की कह दूंगा.

  6 लंड और 4 चूत … बहुत नाइंसाफी है

मैंने वंश से कहा- मैं शनाया से पूछ लेता हूँ, यदि उसे कोई परेशानी नहीं होगी तो तू भी मजा ले लेना.
उसने हां कहा.

मैंने शनाया से सब बात खुल कर कही तो शनाया ने हामी भर दी.
वो वंश के साथ आज ही चुदने को तैयार थी.

मैंने फोन काट कर वंश से कहा- वो मान गई है और आज ही शनाया चुदने को राजी है. अपन तीनों दोस्त मिलकर उसे चोदेंगे.

मेरी बात सुनकर वंश और हार्दिक खुश हो गए.
वंश ने मेरे घर पर ही प्रोग्राम करने को कहा.
शाम का तय हो गया.

वंश ने कहा- आज शाम को मैं तेरे घर स्कॉच लेकर आता हूँ.
मेरा भी मन था कि आज हम सब दारू पार्टी का मजा लेते हुए शनाया की चूत का भोसड़ा बना देंगे.

मैंने शनाया को कॉल किया और उसे शाम की पार्टी के बारे में सब बताया और उसे अपने घर बुला लिया.
वो भी पूरी रात मेरे घर रुकने की तैयारी से आने को राजी हो गई थी.

शनाया शाम को मेरे घर आ गई.
इधर मैं और हार्दिक पहले से तैयार थे.

शनाया ने आकर हम दोनों को देखा और कर पूछा- वंश नहीं आया क्या? आज भी तुम दोनों ही मुझे एक साथ चोदोगे या अलग अलग?
हमने कहा- एक साथ ही चोद देंगे. वंश भी आने वाला है. वो भी तेरी लेगा.

शनाया हंस कर बोली- अइओ … आज तीन का मजा. साले लगता है … तुम लोग मुझे सड़क छाप रांड बना कर छोड़ोगे!
मैंने कहा- तेरा मन नहीं है तो ना बोल दे ना.

शनाया बोली- मन नहीं होता तो पहले ही मना कर देती. चलो, अब जल्दी शुरू करते हैं. तू दारू पार्टी की कह रहा था. बना पैग!
मैंने शनाया से कहा- पहले चुदाई शुरू करते हैं … वंश स्कॉच लाएगा, तब दारू का मजा लेंगे. आज तुम्हें भी तीन लंड से चुदने में कुछ ज़्यादा ही मज़ा आएगा.

वो मुस्कुराकर बेडरूम में चली गई.

मैंने वंश को मैसेज किया और उसे बुला लिया- घर खुला छोड़ा है, अन्दर से लॉक करके नंगा होकर बेडरूम में आ जाना.

हम दोनों बेडरूम में आ गए और नंगे हो गए.
मैंने शनाया को भी नंगी कर दिया.

हार्दिक शनाया की चूत चाट रहा था और मैंने अपना लंड शनाया के मुँह में दे रखा था.

हम वंश के आने का इंतज़ार कर रहे थे.

इतने में वंश पूरा नंगा होकर बेडरूम में आ गया.
हार्दिक और हम अलग हो गए.

शनाया वंश को नंगा देखकर चौंक गई.
उसका लंड काफी मोटा था.

मैंने शनाया से कहा- ले तेरा वंश भी तुझे चोदने आ गया है.
वो वंश कर लंड देखने लगी.

मैंने शनाया से पूछा- तुम्हें दिक़्क़त तो नहीं है?
शनाया ने कहा- नहीं, वंश तो मेरा दोस्त है, वो मुझे चोद सकता है. वो मुझे सीधे भी कहता तो भी मैं उसे मना नहीं करती.

ये सुनकर वंश सीधा शनाया पर टूट पड़ा.
अब शनाया को एक साथ तीन लंड लेने थे.

शनाया ने एक एक करके तीनों के लंड चूसे.

उसके बाद हमने शनाया को बेड पर लेटा दिया, उसकी टांगें फैला कर चूत रगड़ने लगे.

पहले शनाया को हार्दिक ने अपने लंड पर बैठाया और उसकी चूत पेलने लगा. पीछे से वंश आया और उसने शनाया की गांड में लंड डाल दिया.
शनाया दो लंड से एक साथ चुद रही थी. मैंने सामने से लंड उसके मुँह में दे दिया.

एक राउंड के बाद हमने पोजीशन बदल दी.

अब वंश शनाया की चूत मार रहा था और मैं उसकी गांड में लंड पेले हुए लगा था.
सामने से हार्दिक ने अपना लंड शनाया के मुँह में दे रखा था.

शनाया बड़े अच्छे से तीनों के लंड ले रही थी.

उसके बाद मैं चूत चोदने लगा और हार्दिक गांड मारने लगा.
वंश लंड मुँह में दे कर मजा ले रहा था.

तीनों लंड की दमदार चुदाई के बाद शनाया निढाल हो गई.
हम तीनों भी शांत हो गए थे.

वंश ने पैग बनाए और सब चियर्स करके दारू पीने लगे.

वंश ने शनाया की चूची मसल कर कहा- डार्लिंग, मजा आ गया. क्या मस्त चुदाई हुई थी … आनन्द आ गया. शनाया तेरी चूत बहुत गहरी है यार!
शनाया वंश से बोली- अब से तुझे जब चोदना हो, मैं तैयार हूँ. आ जाना.

फिर तीनों ने दूसरे दौर की चुदाई का कार्यक्रम शुरू किया.
उस रात लगातार चार दौर चुदाई चली.
शनाया की चूत का भोसड़ा बन गया था और गांड का गड्डा बन गया था.

फिर हम सब नंगे ही सो गए.

Video: बेटे ने सोती हुई माँ को चोद दिया

सुबह उठ कर एक एक बार फिर से चुदाई का मजा लिया और अपने अपने कपड़े पहन कर अपने अपने घर निकल गए.

इस तरह से शनाया और मेरी दोस्ती अब चुदाई का मजा लेने के लिए अलग अलग लंड चूत को सैट करने में आगे बढ़ने लगी थी.
हम दोनों ही एक दूसरे के लिए लंड चूत का इंतजाम करने लगे थे.

ये बात उस समय की है, जब मेरे दोस्त सत्या ने मुझे उसकी गर्लफ़्रेंड शिल्पा से मिलाया था.

जब मैंने पहली बार शिल्पा को देखा, तो मैं उसका दीवाना हो गया था.

लम्बा कद, घने लम्बे बाल, बड़े बड़े स्तन, बड़ी सी गांड देखकर मेरा मन किया कि उसे अभी पटक कर चोद दूँ.

हाई हैलो के बाद सत्या, शिल्पा को लेकर घूमने निकल गया लेकिन मेरे मन में सिर्फ़ शिल्पा को चोदने के ख्याल आ रहे थे.

शाम को मैंने सत्या को अपने घर पार्टी के लिए बुलाया.
सत्या मेरे घर आया और मैंने व्हिस्की के पैग बनाए.

शराब पीते पीते मैंने सत्या से कहा- यार, तू बहुत खुशक़िस्मत है कि तुझे शिल्पा जैसी बहुत ही खूबसूरत गर्लफ्रेंड मिली.
सत्या ने पैग खत्म करके सिगरेट सुलगाई और कहा- तेरी गर्लफ़्रेंड शनाया भी तो खूबसूरत है.
मैंने कहा- अच्छा तुझे शनाया इतनी अच्छी लगती है, तो उसे तू रख ले और शिल्पा मुझे दे दे.

सत्या ने इसे मज़ाक़ समझा और कुछ नहीं कहा.
लेकिन मैंने अब इस बात पर ज़ोर देना शुरू कर दिया.

सत्या बोला- भाई क्या तू सच कह रहा है. क्या शनाया इस बात के लिए राजी हो जाएगी?
मैंने कहा- हां मैं उसे मना लूंगा, पर पहले तू शिल्पा को तो राजी कर ले.

वो मुझे उकसाने लगा- मैं शनाया को तेरे सामने चोदूँगा.
मैंने कहा- चलेगा … लेकिन मुझे भी शिल्पा चाहिए.

वो कहने लगा- मैं मज़ाक़ नहीं कर रहा हूँ … सीरियसली कह रहा हूँ.
मैंने कहा- शनाया का तो तू तय समझ ले, कल ही उसे चोद लेना, लेकिन क्या शिल्पा मेरे लौड़े पर सवारी करने को मानेगी?

वो नशे में झूमता हुआ बोला- वो तू मुझ पर छोड़ दे. शिल्पा उछल उछल कर तेरे लौड़े को मजा देगी.
मैंने कहा- ती ठीक है, तो कल ही शनाया तुझसे चुदेगी और यहीं मेरे घर पर तू उसे चोद कर मजा ले लेना. लेकिन ये सब तब होगा, जब शिल्पा मेरे कमरे में मेरे लंड से चुदने को राजी होगी.
उसने कहा- हां ठीक है … कल यहीं का प्रोग्राम तय करते हैं.

अगले दिन मैंने शनाया को अपने घर बुलाया और उसे सारी बात बतायी.
शनाया पहले भी मेरे दोस्त हार्दिक के बर्थडे पर उससे चुदी थी और हम दोनों कपल स्वैपिंग के अलावा कई और मौकों पर चुदाई का मजा ले चुके थे.

कुछ ही दिन पहले मैंने हार्दिक और एक और दोस्त वंश ने मिलकर उसका गैंगबैंग भी किया था.
इसलिए शनाया को नए लंड से कोई दिक़्क़त नहीं थी बल्कि उसे तो अपनी चूत के लिए एक नया लंड मिल रहा था.
वो झट से मान गयी.

फिर मैंने सत्या को फ़ोन किया और उससे पूछा कि क्या प्लान है. शनाया तो मान गयी और आ गई है. शिल्पा को ला रहा है न!
उसने कहा- हां मैंने शिल्पा को मना लिया है. बस थोड़ी देर में ही मैं शिल्पा को लेकर तेरे घर आ रहा हूँ.

थोड़ी देर बाद शिल्पा और सत्या आ गए.
हम चारों बैठ गए.

शनाया ने व्हिस्की के पैग बनाए और हम चारों बैठ कर सुरूर बनाने लगे.
मैंने शनाया को आंख मारी तो वो मेरे बाजू से उठ कर सत्या के बाजू में बैठ गई और सिगरेट सुलगा कर सत्या के सीने पर हाथ फेरने लगी.

ये देख कर मैंने शिल्पा को अपने पास आने का कहा.
शिल्पा भी मस्त माल की तरह गांड हिलाती हुई आई और बजाए मेरे बाजू में बैठने के … वो मेरी गोद में ही बैठ गई.

आह उसकी गांड ने मेरे लंड को रगड़ा, तो मुझे मजा आ गया.
मैंने अपने एक हाथ से उसके एक मम्मे को सहलाते हुए दबा दिया.

ये देख कर सत्या ने मेरी गर्लफ्रेंड शनाया को अपनी गोदी में ले लिया और वो उसके होंठों को चूमने लगा.

मैंने सत्या से कहा- भाई जा कोने के कमरे में शनाया को ले जा. उधर तेरा बिस्तर गर्म करने को वो तैयार है. चोद ले उसे जी भर के.
उसने भी शिल्पा के लिए कहा- हां भाई, तू भी मेरी जान शिल्पा की जवानी के पूरे मज़े ले ले.

मैं शिल्पा को लेकर बेडरूम में आ गया.
शिल्पा कुछ शर्मा रही थी क्योंकि वो पहली बार किसी और से चुदने वाली थी.

मैंने शिल्पा को अपने पास खींचा. उसके होंठों पर अपने होंठ रख दिए और उसे धीरे धीरे किस करने लगा.

अब शिल्पा भी पूरा साथ दे रही थी. शिल्पा को काफी देर तक चूमने के बाद मैंने उसे बेड पर लेटा दिया और उसके मम्मों को दबाने लगा.

फिर उसने अपना टॉप उतारा, मैंने उसकी ब्रा को हटाया और मम्मों को चूसने लगा.

अच्छे से उसका दूध पीने के बाद उसने मुझसे कहा- मेरे दूध तो पी लिए, अब अपना दूध भी तो पिलाओ.

मैं समझ गया कि उसे लंड चूसना है. मैं खड़ा हुआ और अपने कपड़े उतार कर नंगा हो गया. मैं उसके सामने कड़क लंड करके खड़ा हो गया.

वो मेरा लंड देखकर खुश हो गई और फट से उठकर लंड मुँह में ले लिया.
कुछ देर लंड चूसने के बाद उसने मेरे टट्टों पर जीभ फेरना शुरू कर दिया. लंड और टट्टों को चाटने के बाद मैंने उसे अपनी गांड चाटने को कहा.

पहले तो उसने मना किया लेकिन बाद में मान गयी.
उसके बाद मैंने उसे फिर बेड पर लेटाया और उसकी जींस उतार दी.

अब शिल्पा मेरे सामने सिर्फ़ चड्डी में थी. मैं चड्डी के ऊपर से ही उसकी चूत को रगड़ रहा था.
फिर मैंने उसकी चड्डी उतारी और चूत पर टूट पड़ा, चूत पर जीभ रख कर अच्छे से चाटी.

चूत चाटने के बाद मैंने अपना लंड उसकी चूत पर सैट कर दिया और रगड़ने लगा.

शिल्पा से रहा नहीं गया, वो कहने लगी- डालो जल्दी से … क्यों तरसा रहे हो?

मैंने धीरे से उसकी चूत में लंड डाला और चुदाई शुरू हो गई. मैंने धक्के तेज करना शुरू कर दिए.
शिल्पा को भी तेज धक्कों से चुदने में मज़ा आ रहा था.

उधर सत्या शनाया के कमरे में चला गया था.
शनाया तो चुदने के लिए तैयार ही थी.

सत्या ने अन्दर जाते ही दरवाज़ा बंद कर दिया.
शनाया जब तक बिस्तर पर बैठ गई.

सत्या शनाया के पास आया और उसे चूमने लगा. शनाया उसका पूरा साथ देने लगी.

फिर शनाया सत्या के सामने बैठ गई और उसकी पैंट को चड्डी समेत नीचे कर दिया. सत्या का लंड शनाया के सामने आ गया और वो लंड मुँह में लेकर चूसने लगी.

अच्छे से लंड चूसने के बाद शनाया सत्या से बोली- अब जल्दी से चोद दे यार … मुझसे नहीं रहा जा रहा है.
सत्या बोला- हां यार, तू तो एकदम हॉट माल है … मुझे तो तुझे गर्म करने के लिए कुछ करना ही नहीं पड़ा. तुम्हें तो ख़ुद ही मर्द गर्म करने का ख़ासा अनुभव है.

शनाया मुस्कुरा कर बोली- हां पूरा अनुभव है. अब आओ और चोदो मुझे!
सत्या ने शनाया के कपड़े उतार दिए और उसके दूध चूसने लगा.
उसके बाद सत्या ने शनाया की चड्डी उतारी और उसकी चूत को चाटने लगा.

दो मिनट अच्छे से चूत चाटने के बाद सत्या ने अपना लंड शनाया की चूत पर रगड़ना चालू कर दिया; फिर एक ही झटके में लंड चूत के अन्दर डाल दिया.
शनाया एक बार को हल्के से कराही और अगले ही पल वो मज़े से लंड के धक्के खाने लगी.

सत्या ने थोड़ी देर बाद लंड झाड़ दिया. शनाया को अभी चुदास चढ़ी थी. उसने सत्या का लंड चूस कर फिर से खड़ा कर दिया और इस बार शनाया ने सत्या को नीचे लेटने को कहा.

सत्या लेट गया और शनाया सत्या के लंड पर बैठ गई. वो अब उछल उछल कर लंड चूत में लेने लगी.
वो झड़ गई तो उसने उछलना बंद कर दिया.

कुछ देर बाद सत्या ने उसे घोड़ी बना दिया और उसकी गांड में लंड डाल दिया.

पांच मिनट गांड मारने के बाद सत्या ने अपना लंड बाहर निकाला और शनाया के मुँह में दे दिया और मुँह में ही झाड़ दिया.

इधर मैं भी शिल्पा की गांड मार रहा था.
शिल्पा बहुत शर्मा रही थी लेकिन मैंने उसे एक अच्छी चुदाई दी.

दोनों कॉलेज गर्ल फक सेशन के बाद बाहर हॉल में आ गईं.

बाहर आकर सभी ने पैग का मजा लेना शुरू किया और सत्या ने कहा- आज वास्तव में शनाया के साथ मुझे मज़ा आ गया. अगली बार प्लान जल्दी ही बनाते हैं.
फिर शिल्पा सत्या के साथ चली गई और मैंने शनाया को एक बार और चोदा. बाद में मैंने उसे उसके घर छोड़ दिया.

मुझे उम्मीद है कि आपको मेरी कॉलेज गर्ल फक स्टोरी पसंद आई होगी. अगली में आपको फिर से अपनी गर्लफ्रेंड शनाया की चुदाई के कुछ और किस्से सुनाऊंगा.
आप मुझे मेल जरूर करें.
आपका शुभम शर्मा
[email protected]

Video: देसी काश्मीरी गर्ल डर्टी पोर्न वीडियो

(Visited 2,459 times, 1 visits today)